100 cute Bachpan status और shayari 

नमस्कार दोस्तों, Social Shayari पर आपका स्वागत है। आज मैं आपको बताऊंगी bachpan status in hindi,  bachpan ka pyar status, bachpan ke dost status।

सब का बचपन उनके जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण समय होता है वह मेरा इस समय बच्चे खाना बोलना चलना दौड़ना आदि लिखते हैं। यूं ही नहीं बच्चों को भगवान का रूप कहा जाता है बच्चे बहुत मासूम होते हैं और किसी के लिए बाहर नहीं रखते। हम सब बड़े होकर भी यही चाहते हैं कि हम अपने बचपन का समय दोबारा जी सकें जिसमें आसानी से दोस्ती बना लिया करते थे और किसी चीज की चिंता नहीं होती थी। 

आजकल के stress भरे जीवन में आज भी बचपन की लोरी याद आती है पोएम आज भी बचपन की शाम याद आती है जब हम खेलने जाया करते थे हर शाम तक घूमा करते थे उन्हें राम हमें हर चीज में खुशी दिखती थी और सारी से बड़ी बड़ी लगती थी। जिंदगी बहुत धीरे धीरे चलती थी और सब हमें मासूमियत से देखते थे। हमारी शैतानी के बाद भी सब हमसे बहुत प्यार करते थे। 

ऐसा ही जीवन आज हम सबको जीना है जिसमें हम एक दूसरे के खिलाफ बिल्कुल hate ना रखें और आपस में संग संग जीयें। अपने बचपन को याद करते हुए मैं कुछ status प्रस्तुत करती हूं आप इन्हें अंत तक जरूर पढ़ें।

अगर आपको लेख पसंद आये तो अपने दोस्तों के साथ ज़रूर share करें। अब जानते हैं bachpan status in hindi।


Bachpan status in hindi

1. बचपन में हम ही थे या था
और कोई  वहशत सी होने लगती है यादों से 

bachpan mein hum hi the ya tha
aur koi vahshat see hone lagti hai yaadon se

2.  बड़ी हसरत से इंसान बचपने को याद  करता है
ये फल पाकर दोबारा चाहता है झुक जाए 

badi hasarat se insan bachpane ko yaad karate hai
ye fall pakar dobara chahta hai jhuk jaye

3. भूख चेहरे पे लिए चाँद से प्यारे बच्चे
बेचते फिरते हैं गलियों में ग़ुब्बारे 

bhookh chehre pe lie chaand se pyaare bachche
bechte firate hain galiyon mein gubbare

4. एक हाथी एक राजा एक रानी के बग़ैर
नींद बचपन में कहा आती थी कहानी के बग़ैर 

ek hathi ek raja ek raani ke baghair
neend bachpan mein kaha aati thi kahani k baghair

Bachpan status in hindi

5. एक खिलौना जोगी से खो गया था
बचपन में ढूँढता फ़ीरा उस को वो नगर नगर तनहा

ek khilauna jogi se kho gaya tha
bachapan men dhundhata fira us ko wo nagar nagar tanha 

6. हम तो बचपन में भी अकेले थे
सिर्फ़ दिल की गली में खेले थे 

hum toh bachpan mein bhi akele the
sirf dil ki gali men khele the

7. किताबो से निकल कर तितलियाँ ग़ज़लें सुनाती हैं
टिफ़िन रखती थी मेरी माँ तो बस्ता मुस्कुराता था 

kitabo se nikal kar titliyaan ghazlen sunati hai
tiffin rakhti thi meri maa to basta muskuraata tha

Bachpan status one line

8. आजकल आम भी पेड़ से खुद गिरके टूट जाया करते हैं ,
छुप छुप के इन्हें तोड़ने वाला अब बचपन नहीं रहा

aajkal aam bhi ped se khud girke toot jaya karte hai
chhup chhup ke inhen todane vala ab bachpan nahin raha

Also read: Best feeling status और shayari in hindi

9. अजीब सौदागर है ये वक़्त भी
जवानी का ललच देके बचपन लेगया 

ajeeb saudagar hai ye vakt bhi
jawani ka lalach deke bachpan legaya

10. वो बचपन भी क्या ख़ूब था जब नादान हम पंछी थे
आज उड़ना तो जान गए बस नादानी वही छोड़ आए 

wo bachapan bhi kya khub tha jab nadan hum panchhi the
aaj udna to john gaye bas nadani vahi chhod aye

बचपन की यादें फ़ोटो

11. बचपन में सुना था गर्मी ऊन में होती हे
स्कूल में पता चला गर्मी जून में होती है
दोस्तों से पता चला गर्मी खून में होती है
बड़े हुए तो पता चला गर्मी तो पेड़े के जुनून में होती है 

bachapan men suna tha garmi un mein hoti hai
school mein pata chala garmi june men hoti hai
doston se pata chala garmi khun mein hoti hai
bade hue to pata chala garmi to pede k junoon men hoti hai

Bachpan ki yade status

12. देखा करो कभी अपनी माँ की आँखों में भी ,
ये। वो आइना हैं जिसमे बच्चे कभी बुद्धे नहीं होते 

dekha karo kabhi apani maan ki ankhon mein bhi ,
ye wo aaina hain jisame bachche kabhi buddhe nahin hote

13. याद आता है वो बीता बचपन ,
जब ख़ुशियाँ छोटी होती थी ,
बाग़ में तितली को पकड़ ख़ुश होना ,
तारे तोड़ने जितनी ख़ुशी देता था 

yaad ata hai wo beeta bachpan ,
jab khushiyaan chhoti hoti thi ,
bagh mein titli ko pakad khush hona ,
taare todne jitani khushi deta tha

14. मुझे फिर से वो बचपन वाला एतबार लौटा दे ,
कुछ पल इस वक़्त को तू एसे ही ठहरा दे 

mujhe fir se wo bachapan vala aitbaar lauta de ,
kuchh pal is vakt ko tu aise hi thhahara de

Also Read: 240 Top Boys attitude shayari हिंदी में

15. बचपन मे लगता था के हम कब बड़े होंगे ..
जब बड़ा बनकर देखा तो कही खो गया वो मासूमियत भरा बचपन 

bachpan may lagata tha ke hum kab bade honge ..
jab bada bankar dekha to kahi kho gaya wo masumiyat bhara bachapan

बचपन के मित्र

16. बचपन मे रहा करती थी गली मे दोस्तों की महफ़िल ,
आजना महफ़िलें हैं ना दोस्त नज़र आती है सिर्फ़ सूनी सड़कों पर उड़ती धूल 

bachpan may raha karati thi gali me doston ki mahafil ,
aajna mahafilen hain na dost nazar aati hai sirf sooni sadakon par udti dhul

Bachpan status sharechat

17. बचपन मे ही खेला करते थे खेल ,
अब तो ज़िंदगी खेलती है हमसे

bachpan me hi khela karte the khel ,
ab to zindagi khelti hai hamase 

18. बचपन में गिरते थे चोट लगती थी पर उसका दर्द इतना नहीं था ,
जितना बड़ा होने के बाद दिल पर चोट लगती है 

bachapan men girte the chot lagati thi per usaka dard itana nahi tha ,
jitna bada hone ke baad dil par chot lagti hai

19. काश लाइफ़ में एक रिवर्स गीयर होता ,
तो लाइफ़ की गाड़ी जब चाहे तब बचपन में लौट जाति 

kash life mein ek reverse gear hota ,
to life ki ghadi jab chaahe tab bachpan mein laut jaati

Bachpan ka pyar status

20.  असली मुस्कुराहट तो बचपन की ही थी ,
अब तो बस मुखौटा लगाए फिरते है मुस्कुराहट का 

asali muskurahat to bachpan ki hi thi ,
ab to bas mukhauta lagaye firte hai muskurahat ka

21. कब बीता बचपन कब स्कूल chuth गया पता ही नहीं चला ,
जब होश आया तब कंधोपर ज़िम्मेदारियों का बसता मिला 

Also read: Deshbhakti shayari

kab beeta bachpan kab school chuth gaya pata hi nahi chala ,
jab hosh aya tab kandhopar zimmedariyon ka basta mila

22. बड़ा अफ़सोस होता है कभी कभी बड़ा बन्ने का ,
जब अपने ही बच्चे दिखते है खेलते हुए खेल बचपन का 

bada afsos hota hai kabhi kabhi bada banne ka ,
jab apane hi bachche dikhte hai khelte hue khel bachapan ka

बचपन शायरी in English

23. कितना भी बड़ा हो जाऊ वो बचपन नहीं भूल पाऊँगा
और कितने भी मेंहँगे जूते ख़रीद लू वो पेरो में पहने उल्टे चप्पल नहीं भूल पाऊँगा

kitana bhi bada ho jau who bachpan nahi bhool paaunga
or kitne bhi menhange jute kharid lou who pero mein pahane ulte chappal nahi bhool paaunga 

24. सच में बचपन में सोचते थे हम बड़े क्यूँ नहीं हो रहे 
और अब सोचते हे हम बड़े क्यू होगये 

Bachpan status videos

such men bachpan mein sochate the hum bade kyun nahi ho rahe
aur ab sochate he hum bade q hogye

25. वो बचपन भी कितना सुहाना था
हर रोज़ नया एक फ़साना था 

wo bachapan bhi kitana suhaana tha
har rose naya ek fasaana tha

26. मिट्टी भी जमा की और खिलौने भी ख़रीद कर देखे
लेकिन ज़िंदगी कभी ना मुस्कुराई फिर बचपन की तरह 

mitti bhi jama key or khilaune bhi kharid kar dekhe
lekin jindagi kabhi na muskuraai fear bachpan ki tarah

27.  कितनी भूखी होती है ज़िंदगी
उसके हिस्से का बचपन खा जाती है 

kitani bhookhi hoti hai zindagi
uske hisse ka bachpan kha jaati hai

28. जब कभी हसने का कारण ढूँढना पड़े तो समझ लेना ,
बचपन खतम समझदारी की उम्र आ गयी है 

jab kabhi hasne ka karan dhundhana pade to samajh lena ,
bachpan khatam samjhdari ki umr aa gayi hai
 

29.  संसार में कुछ अच्छा रहने दो
बच्चे को बच्चा रहने दो 

 sansar mein kuchh achchha rehne do
bachche ko bachcha rahane do

Bachpan status

30. मेरे दिल के किसी कोनो में एक मासूम सा बच्चा बड़ो की देखकर दुनिया ,
बड़ा होने से डरता है 

mere dil ke kisi kono mein ek masoom sa bachcha bado key dekhkar duniya ,
bada hone se darta hai

मेरे बचपन की यादें

31. बचपन का हर नन्हा सपना
थक कर बूढ़ा होकर लौटा 

bachapan ka har nanha sapna
thak kar budha hawker lauta

 32. मेरे रोने का जिस में क़िस्सा हे
उम्र का बेहतरीन हिस्सा हे

Bachpan status download

mere rone ka jis men kissa hai
umr ka behatareen hissa he

33.  फ़रिश्ते आकर उन के जिस्म पर ख़ुशबू लगते है
वो बच्चे रेल के डिब्बो मे जो झाड़ू लगाते है 

farishte aakar un ke jism per khushboo lagte hai
woh bachche rail k dibbo me jo jhadu lagate hai 

34. बचपन में पैसा ज़रूर कम था ,
पर यक़ीन मानो उस बचपन में दम था 

bachpan mein paisa zaroor come tha ,
par yakin mano us bachapan men dam tha

35. जब थे दिन बचपन के वो थे बहुत सुहाने पल
उदासी से न था नाता ग़ुस्सा तो कभी ना था आता 

jab the din bachapan ke wo the bahut suhane pal
udasi se na tha naata gussa to kabhi na tha aata

36. ना जाने वो बच्चा किस खिलौने से खेलता है ,
जो दिन भर बाज़ार में खिलौने बेचता है 

na jaane woh bachcha kiss khilaune se khelta hai ,
jo din bhar bazar mein khilaune bechta hai

37. स्कूल का वो बैग फिरसे थमा दे माँ,
यह ज़िंदगी का बोझ उठाना मुश्किल है 

school ka wo bag firse thama de maan,
yeh zindagi ka bojh uthana mushkil hai

बचपन की यादें स्टेटस इन हिंदी

38. पुरानी अलमारी से देख मुझे वो खूब मुस्कुराता है ,
ये बचपन वाला खिलौना मुझे बहुत सताता है 

purani almari se dekh mujhe wo khoob muskuraata hai ,
ye bachpan vala khilauna mujhe bahut sataata hai

Also Read: Republic day status

39. उदास रहता है मोहल्ले में बारिश का पानी आजकल सुना है
काग़ज़ की नाव बनाने वाले बच्चे अब बड़े हो गए है 

udaas rehta hai mohalle mein baarish ka paani aajkal suna hai
kaghas key nov banane vale bachche ab bade ho gaye hai

Bachpan status

40. बचपन में ही ज़िम्मेदारियों को मेने बड़ते हुए देखा है ,
मेने अपने अंदर एक बच्चे को मरते हुए देखा है 

bachpan mein hi zimmedariyon ko maine badte hue dekha hai ,
maine apne andar ek bachche ko marte hue dekha hai

41. आज भी याद आता है बचपन का वो खिलखिलाना
दोस्तों से लड़ना , रूठना , मानना 

aaj bhi yaad ata hai bachapan ka wo khilkhilana
doston se ladna , ruthhana , manna

42. माँ , पिता , शरारते , आँसू का जिसमें क़िस्सा है ,
बचपन ही मेरी ज़िंदगी का बेहतरीन हिस्सा है 

maan , pita , shararate , ansu ka jisamen kissa hai ,
bachpan hi meri zindagi ka behatareen hissa hai

43. आसमान में उड़ती एक पतंग दिखाई दी ,
आज फिर मुझ को मेरा बचपन दिखाई दिया 

aasman mein udti ek patang dikhai di ,
aaj fear mujh ko mera bachapan dikhai diya

44. एक बचपन का ज़माना था होता जब ख़ुशियों का ज़माना था
चाहत तो चाँद को पाने की थी पर दिल तो तितली का दीवाना था 

Bachpan के यार shayari

ek bachapan ka zamaana tha hota jab khushiyon ka zamaana tha
chaahat to chaand ko paane ki thi par dil toh titli ka deewana tha 

45.  खबर ना होती कुछ सूबह की ,
ना कोई शाम का ठिकाना था ,
थक हार के आना स्कूल से पर खेलने को तो ज़रूर था जाना 

Also Read: golden quotes in hindi

khabar na hoti kuchh subah ki ,
na koi shaam ka thikana tha ,
thak haar ke ana school say per khelane ko toh zaroor tha jaana

गांव का बचपन

46.  खेला करते थे कूदा करते थे ,
मौज मस्ती में जीया करते थे ,
वो मासूम बचपन ही था जहां सभी से दोस्ती कर लीया करते थे 

khela karte the kooda karte the ,
mauj masti men jiya karte the ,
woh masoom bachpan hi tha jahan sabhi se dosti kar liya karate the

47. बचपन कितना ख़ूबसूरत था
तब खिलौना ज़िंदगी थे आज ज़िंदगी खिलौना है 

bachpan kitna khubsurat tha
tab khilauna zindagi the aaj zindagi khilauna hai

Bachpan ke dost status

48. बचपन के वो दिन भी क्या खूब थे ,
ना दोस्ती का मतलब पता था , और ना मतलब की दोस्ती थी 

bachapan ke wo din bhi kya khoob the ,
na dosti ka matlab pata tha , or na matlab ki dosti thi

49. क्यू छुट्टी वाले दिन भी करार नहीं आता ,
क्यू वो बचपन वाला रविवार नहीं आता 

kyu chutti vale din bhi karaar nahi aata ,
kyu wo bachpan vala ravivar nahi aata

50. होंठों पर मुस्कान थी ,
कंधो पर बसता था सुकून के मामले में वो ज़माना सस्ता था

honthon per muskaan thi ,
kandho per basta tha sukun k mamle mein woh zamana sasta tha


Conclusion

मुझे उम्मीद है कि आपने bachpan status in hindi को पढ़कर बहुत आनन्द लिया होगा। 

बचपन जीवन की पहली सीढ़ी है।  परिवार एक ऐसी जगह है जहाँ बच्चे का पहला जन्म होता है।  इसलिए माता-पिता और परिवार के अन्य सदस्य वास्तव में बच्चे के भविष्य को आकार देने और बच्चे के बचपन को यादगार बनाने के लिए जिम्मेदार होते हैं।

सबसे महत्वपूर्ण चीज जो बचपन को यादगार बनाती है वह है परिवार और परिवार के सदस्यों का प्यार और देखभाल।  एक बच्चे के पास सबसे शुद्ध हृदय होता है जो किसी भी इंसान के पास हो सकता है और जो कुछ भी दिल चाहता है वह प्यार है;  परिस्थितियाँ कैसी भी हों।  कोई भी व्यक्ति जो यह दावा करता है कि उसका बचपन शानदार रहा है, उसने अपने परिवार के सदस्यों से पर्याप्त मात्रा में प्यार, देखभाल और स्नेह देखा है।

किसी भी व्यक्ति के दिल में बचपन की यादों का अपना स्थान होता है।  जैसे-जैसे कोई बड़ा होता है, वह अपने बचपन से अधिक से अधिक जुड़ाव महसूस करता है, जो किसी व्यक्ति के जीवन का सबसे अच्छा समय होता है।  कोई चिंता, चिंता या काम न होने से बच्चा सांसारिक जीवन के गंदे और गंदे शोर से मुक्त हो जाता है।  जब लोग बचपन की यादों को याद करते हैं, तो उन्हें खुशी होती है क्योंकि यह सबसे सुखद अवधि है।

बचपन की यादें एक व्यक्ति को उसके जीवन भर सताती हैं और वे चाहते हैं कि बचपन के दिनों की बात जानते हुए भी खुशी से भरे बचपन के दिन वापस आ जाएं।  समय हमेशा तेजी से गुजरता है और किसी के लिए भी उन दिनों का आनंद लेना असंभव है जो कभी वापस नहीं आएंगे।

बचपन वह काल है जिसकी अक्सर कवियों और लेखकों ने प्रशंसा की है।  जैसे-जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती है, वह बचपन में बिताए दिनों के लिए बहुत लगाव और आकर्षण महसूस करता है।  हर कोई अपने दिल की गहराई में फिर से बच्चा बनना चाहता है लेकिन सच्चाई यही है;  वे दिन वापस नहीं आ सकते, चाहे हम कितनी भी कोशिश कर लें।

बच्चे वास्तव में पृथ्वी ग्रह के लिए भगवान का उपहार हैं और यह भी कहा जाता है कि यदि कोई बच्चे को खुश रखता है, तो वह सर्वशक्तिमान को खुश रखता है।  बचपन वास्तव में किसी भी व्यक्ति के लिए भगवान का सबसे अच्छा उपहार है और हम सभी इस तथ्य से अवगत हैं कि पैसे से कुछ भी खरीदा जा सकता है लेकिन दुनिया का सारा पैसा भी किसी के जीवन में अतीत को वापस लाने के लिए पर्याप्त नहीं है।

बचपन जीवन का वह सुनहरा दौर है जो बिना किसी सूचना के उड़ जाता है और कभी वापस नहीं आता।  लेकिन हम सभी को बचपन के बारे में एक महत्वपूर्ण तथ्य से अवगत होना चाहिए।  यह बचपन के दौरान होता है कि एक बच्चे को अपने पूरे जीवन के लिए एक व्यक्ति के रूप में ढाला जाता है।  बच्चा अपने परिवार, शिक्षकों और साथियों से जो सीखेगा और देखेगा, वही वह भविष्य में सीखेगा।

जिस प्रकार कुम्हार अपनी इच्छानुसार घड़े को ढलता है, उसी प्रकार कोई भी व्यक्ति अपने बचपन में ही ढाला जाता है।  यदि ढलाई अच्छी है, तो बच्चा एक आदर्श व्यक्ति बनेगा जो समाज, राष्ट्र और विश्व के विकास और उन्नति में मदद करेगा।  दूसरी ओर, यदि मोल्डिंग खराब है, तो बच्चा समाज के लिए खतरा बन सकता है।  इस प्रकार माता-पिता के लिए यह आवश्यक है कि वे अच्छे चरित्र, देशभक्ति, बड़ों के प्रति सम्मान, जरूरतमंद लोगों की मदद करने और बच्चों में बचपन से ही उनके भविष्य को उज्ज्वल करने के लिए मूल्यों को स्थापित करें।  

प्रत्येक बच्चे को उसके माता-पिता द्वारा उसके बचपन का भरपूर आनंद लेने का अवसर दिया जाना चाहिए। अध्ययन महत्वपूर्ण है लेकिन किसी को भी बच्चे पर पाठ्येतर गतिविधियों का बोझ नहीं डालना चाहिए।  हाँ, ये गतिविधियाँ महत्वपूर्ण हैं लेकिन इस तथ्य को नहीं भूलना चाहिए कि ये गतिविधियाँ बाद में भी सीखी जा सकती हैं लेकिन बचपन एक बार चला गया तो फिर कभी हमारे दरवाजे पर दस्तक नहीं देता।  

जब कोई बच्चा खुश रहता है, तो उसके बड़े होने पर भी उसके दिल में खुशी की भावना हमेशा बनी रहती है क्योंकि जीवन के खूबसूरत दौर की थोड़ी सी भी याद किसी के जीवन से सभी तनावों को दूर कर होठों पर मुस्कान ला देती है।  हमें इस तथ्य का एहसास होना चाहिए कि एक अद्भुत बचपन के लिए हम बेहद भाग्यशाली हैं। कुछ बच्चों को एक सुंदर बचपन भी नहीं मिलता है, विशेष रूप से बाल श्रम में शामिल बच्चों को।  बचपन किसी व्यक्ति के जीवन की सबसे महत्वपूर्ण अवधि है और यह वह अवधि है जो बच्चे के भविष्य की नींव रखती है।

आज हमने सीखा-

  1. bachpan ki shayari in hindi
  2. 2 lines shayari on bachpan
  3. Bachpan ke liye shayari
  4. Bachpan ke dost status 
  5. Bachpan ka pyar status
  6. Bachpan ki yade status
  7. Bachpan status in hindi
  8. Bachpan status in punjabi

ऊपर लिखी शायरी के बारे में आपके क्या विचार हैं, उन्हें नीचे comment box में जरुर प्रकट करें। अगर आपका कोई सवाल है तो आप comment कर सकते हैं या email कर सकते हैं। इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक share करें ताकि अन्य लोग इस शायरी का आनंद ले सकें।

मैं आपको जल्द से जल्द reply देने की कोशिश करूंगी। 

धन्यवाद……..।

Bachpan status in hindi और 2 lines shayari on bachpan पढ़ने के लिए शुक्रिया।


FAQ (Frequently Asked Questions)

खुश रहने पर क्या होता है?

जब कोई बच्चा खुश रहता है, तो उसके बड़े होने पर भी उसके दिल में खुशी की भावना हमेशा बनी रहती है क्योंकि जीवन के खूबसूरत दौर की थोड़ी सी भी याद किसी के जीवन से सभी तनावों को दूर कर होठों पर मुस्कान ला देती है। 

हमें इस तथ्य का एहसास होना चाहिए कि एक अद्भुत बचपन के लिए हम बेहद भाग्यशाली हैं।

बचपन को यादगार बनाने वाली सबसे महत्वपूर्ण चीज़ क्या है?

सबसे महत्वपूर्ण चीज जो बचपन को यादगार बनाती है वह है परिवार और परिवार के सदस्यों का प्यार और देखभाल। 

एक बच्चे के पास सबसे शुद्ध हृदय होता है जो किसी भी इंसान के पास हो सकता है और जो कुछ भी दिल चाहता है वह प्यार है;  परिस्थितियाँ कैसी भी हों।

Leave a Comment